*रेलवे फाटक बंद करने के पहले करें वैकल्पिक मार्ग की व्यवस्था — मनोज द्विवेदी* *अंडर ब्रिज पर दबाव पडने से यातायात व्यवस्था चरमराने की आशंका*

0
44

(मनीष शुक्ला)

*अनूपपुर / जिला मुख्यालय में अंततः रेलवे ओव्हर ब्रिज का निर्माण कार्य प्रारंभ होने जा रहा है। बुधवार को ले – आऊट का काम पूरा होने के साथ ही ब्रिज निर्माण का कार्य ठेकेदार ने शुरु कर दिया है। इस बात की संभावना है कि शीघ्र ही रेलवे फाटक को काम पूरा होने तक स्थायी रुप से बंद कर दिया जाए। जिले के वरिष्ठ पत्रकार मनोज द्विवेदी ने इसे लेकर अपनी चिंता जाहिर करते हुए कलेक्टर सुश्री सोनिया मीणा एवं पुलिस अधीक्षक अखिल पटेल का ध्यान इस ओर आकृष्ट करते हुए मरीजों एवं आम जनता की सुविधा को लेकर कुछ सुझाव दिये हैं। उन्होंने मांग की है कि रेलवे फाटक को लंबे समय के लिये या स्थायी रुप से बंद करने के पहले इसके पूर्वी ओर एंबुलेंस और छोटे वाहनों के आने – जाने के लिये वैकल्पिक मार्ग की व्यवस्था जरुर की जाए। ऐसा ना होने पर अंडर ब्रिज पर यातायात का जबरदस्त दबाव होगा जो कभी भी ध्वस्त हो सकता है।* कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक का ध्यानाकर्षण करते हुए श्री द्विवेदी ने कहा है कि जिला मुख्यालय में रेलवे ओव्हर ब्रिज का कार्य शुरु हो रहा है । संभवतः रेलवे फाटक जल्दी बंद कर दिया जाएगा। जिसके कारण यातायात का पूरा दबाव नगर के पश्चिमी हिस्से पर बने अंडर ब्रिज पर होगा। तब यह जिला अस्पताल , कलेक्ट्रेट, मुख्य बाजार, स्कूल – कालेज जाने – आने का एकमात्र मार्ग होगा। ध्यान रहे कि तीसरी रेल लाईन के कारण यहाँ भी काम चल रहा है। किसी आपातकालीन स्थति में यदि यह मार्ग भी बंद हो गया तो *जिला मुख्यालय में मरीजों और सभी वर्ग के लिये भारी संकट* उठ खड़ा होगा। तब ना तो एंबुलेंस जिला चिकित्सालय आ – जा पाएगीं और ना ही लोग सुगमता से कलेक्ट्रेट, मुख्य बाजार, न्यायालय, विद्यालय, महाविद्यालय सहित अन्य जगहों पर आना – जाना कर पाएगें।
*इस हेतु सुझाव दिया गया है कि * —
*1. रेलवे फाटक बंद करने के पहले पूर्वी हिस्से में तुलसी महाविद्यालय की ओर से छोटे वाहनों के लिये वैकल्पिक मार्ग की व्यवस्था की जाए।*
*2 . जब तक बहुत आवश्यक ना हो रेलवे फाटक को एंबुलेंस, छोटे वाहनों के लिये बंद ना किया जाए।*
*3.अंडर ब्रिज के दोनों ओर यातायात नियंत्रण के लिये रेल विभाग *अमरकंटक तिराहे* और *चचाई तिराहे* *पर सिग्नल सिस्टम लगाए। यह आने वाले कुछ वर्षों तक यातायात नियंत्रण में बहुत काम आने वाला है।*
*4. यातायात नियंत्रण के लिये अमरकंटक तिराहे और चचाई तिराहे पर स्थायी रुप से यातायात पुलिस की व्यवस्था हो ।*
उन्होंने जिला प्रशासन से आने वाले तीन वर्षों की यातायात सुगमता को ध्यान में रख कर पुख्ता व्यवस्था करने की अपील की है। ताकि अनूपपुर नगर और जिले भर से यहाँ आने वाली जनता को दिक्कतों का सामना ना करना पड़े ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here