*अदम्य साहस और संघर्ष की मिसाल हैं जिले के लोकतंत्र सेनानी मूलचंद जी ,घनश्याम जी– रामलाल रौतेल* *मुख्यमंत्री द्वारा प्रदत्त ताम्रपत्र ,साल ,श्रीफल से किया नागरिक अभिनन्दन*

0
28

(मनीष शुक्ला)

*अनूपपुर / नगर के लोकतंत्र सेनानी मूलचंद अग्रवाल और घनश्याम गुप्ता अदम्य साहस और संघर्ष की जीती जागती मिसाल हैं। उनका संपूर्ण जीवन देश ,समाज, पार्टी के लिये समर्पित रहा है। मीसाबंदियों का नागरिक अभिनन्दन करते हुए उपरोक्त विचार अनूपपुर के पूर्व विधायक ,भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य रामलाल रौतेल ने व्यक्त किये। उन्होने कहा कि न ई पीढी को लोकतंत्र सेनानियों की जीवन शैली से बहुत कुछ सीखने की जरुरत है‌ । भारतीय जनता पार्टी और मुख्यमंत्री श्री चौहान का मानना है कि मीसाबंदियों का सम्मान करना सभी कार्यकर्ताओं का कर्तव्य है। शुक्रवार, 3 सितंबर की शाम नगर के मुख्य बाजार क्षेत्र में भाजपा नेता सत्येन्द्र सिंह परिहार, मनोज द्विवेदी , प्रेमनाथ पटेल, उमेश पटेल, कृष्णानंद द्विवेदी,अरुण सिंह,जनार्दन मिश्रा,मोहित पटेल, वरिष्ठ पत्रकार अरविन्द बियाणी, राजेश शिवहरे, राजेश शुक्ला,अजीत मिश्रा, चैतन्य मिश्रा, पुष्पेन्द्र त्रिपाठी, सुधाकर मिश्रा, हिमांशु बियाणी, मोहन यादव,रामनारायण पाण्डेय,उमेश सिंह, हरिशंकर वर्मा,राकेश गुप्ता, महादेव अग्रवाल, प्रभात श्रीवास्तव, मनोज सोनी, राकेश अग्रवाल के साथ नगर के सैकड़ों लोगों की उपस्थिति में भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं मीसाबंदी मूलचंद अग्रवाल एवं मीसाबंदी घनश्याम दास गुप्ता का मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रदत्त ताम्रपत्र प्रदान करके सार्वजनिक अभिनन्दन किया गया।*
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के पत्र का वाचन करते हुए श्री रौतेल ने कहा कि *लोकतंत्र सेनानियों के अदम्य साहस एवं संकल्प प्रदर्शन के कारण 21 मार्च 1977 को आपातकाल समाप्त हुआ! लोकतंत्र की रक्षा के लिए महानुभावों ने अनुकरणीय त्याग और बलिदान किए है! आपके साहसपूर्ण कार्य के लिए माननीय मुख्यमंत्री जी ने ताम्रपत्र भी प्रदान किए हैं, उस ताम्रपत्र को लोकतंत्र सेनानियों को सौपते हुए, हम सभी लोग गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं ।*
*बिक गयी थी जमीन* — आपातकाल के संघर्ष को याद करते हुए मीसाबंदी मूलचंद जी ने बहुत सॆ गोपनीय रहस्यों और कडे संघर्षों पर रोशनी डाली। उस वक्त के कठिन समय को याद करते हुए वो भावुक हो उठे और कहा कि जेल से बाहर आने के लिये कानूनी लडाई में उनकी 14 एकड़ जमीन तक बिक गयी।
*इन्होंने भी किया संबोधित* — लोकतंत्र सेनानियों के सम्मान में भाजपा नेता मनोज द्विवेदी, प्रेमनाथ पटेल, सत्येन्द्र सिंह परिहार, उमेश पटेल, अरुण सिंह, अजीत मिश्रा, मोहित पटेल सहित अन्य लोगों ने अपने खट्टे – मीठे अनुभवों को बांटते हुए मंच को संबोधित किया। कार्यक्रम का कुशल संचालन कृष्णा नंद द्विवेदी ने किया।
*दी श्रद्धांजलि* — कार्यक्रम के अंत में वरिष्ठ व्यवसायी हीरालाल गुप्ता की धर्मपत्नी पार्वती देवी एवं कोरोना काल में कालकवलित हुए जिले के पांच पत्रकारों को दो मिनट मौन रह कर श्रद्धांजलि अर्पित की गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here