शिवा नायडू और ऋषि को मिली जमानत, मामला दुकान कब्जे विवाद की।

0
732

(ब्यूरो रिपोर्ट बिलासपुर)

 

शिवा नायडू और ऋषि को मिली जमानत, मामला दुकान कब्जे विवाद की।

बिलासपुर- बीते 8 जून को पुराना बस स्टैंड स्थित दुकान पर कब्जा लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट मामले पर 6 लोगो के खिलाफ तारबाहर पुलिस द्वारा गैरजमानती धारा के तहत अपराध पंजीबद्ध के कार्यवाही की गई, जिसमें पांच लोगों के जेल भेजा गया था। जिसमे आज शिवा नायडू और ऋषि कश्यप की जमानत याचिका मंजूर कर ली गई है।

गौरतलब हो कि पूरे सीसीटीवी फुटेज के अनुसार सोहराब खान सहित बड़ी संख्या में मारपीट करने वाले पीछे से आते हैं और एकाएक ताबड़तोड़ अभय पर हमला बोल देते हैं जिससे अभय और उनके साथी संभल नही पाये और अभय घायल हों जाते हैं।

जिस पर बिलासपुर पुलिस एक बार फिर सवालों के घेरे में है, पूरे सीसीटीवी फुटेज में पीछे से दर्जनों लोग एक के बाद एक आते दिख रहे हैं उसके बाद भी सिर्फ तीन लोगों पर ही तारबाहर पुलिस द्वारा एफआईआर दर्ज किया गया है।

दो गुटों में हुए विवाद मामले ने तूल पकड़ लिया है साथ ही पुलिस पर भी पक्षपात का आरोप लग रहा है। सिर्फ एक मिनट के अंदर ही सारी वारदात होती है और सिर्फ अभय और उसके साथी मार खाते फुटेज में नजर आते हैं तो अभय और उनके साथी ने कब मारपीट और तोड़फोड़ की? जो उनके ऊपर 452 जैसी गैरजमानती धारा लगाई गई।

पूरे मामले पर तारबाहर पुलिस पर संतुलन बनाने का आरोप भी लग रहा है। जिस दौरान उन पर मारपीट और 452 आईपीसी धारा जोड़ी गई उस दौरान अभय और उनके साथी पुलिस अभिरक्षा में थे, और अभय अस्पताल में थे। फिर यह कैसे संभव है?

बहरहाल देर सबेर ही सही पुलिस को जबाब देना अब मुश्किल हो सकता है। पूरे मामले पर अब कहानी परत दर परत खुलने लगी है आगे भी कई मोड़ आएंगे जिस पर बाते साफ हो सकती।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here